Newbuzzindia : हाल ही में जारी एक रिपोर्ट में  नोटबंदी के पहले भाजपा नेताओं के पास मौजूद नगद की जानकारी सार्वजानिक की गयी । यह जानकारी भाजपा नेताओं ने संसद को दी थी । जानकारी के अनुसार अरुण जैटली के पास नोटबंदी के पहले 65 लाख रुपये नगद मौजूद थे । 

ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर अरुण जैटली का यह पैसा गया कहा ? ऐसे में सवाल उठना लाज़मीय है । जैसे

  1. नोटबंदी के बाद क्या अरुण जैटली ने 65 लाख रुपये अभी तक जमा नही किये ? 
  2. अरुण जैटली को नोटबंदी की जानकारी पहले से थी इसलिए उन्होंने पहले ही नोट बदलवा लिए ?
  3. अरुण जैटली ने अपना पैसा किसी दुसरे माध्यम से बदलवा लिया । 
  4. अरुण जैटली के लिए 65 लाख कुछ मायने नही रखते । उन्होंने अपना पैसा गरीबों में बात दिया ।
  5. क्या अरुण जैटली के पास इन पैसों का कोई हिसाब नही है ?
  6. क्या यह पैसा अरुण जैटली का कालाधन है ?

कांग्रेस ने बोला अरुण जैटली पर हमला

ऐसे में अब कांग्रेस भी वित्तमंत्री अरुण जैटली पर हमलावर हो गयी है । कांग्रेस ने कहा है कि अरुण जैटली के पास 65 लाख की घोषित नगदी थी लेकिन वह तो किसी लाइन में पैसे बदलते हुए नही दिखे ।