Newbuzzindia: मध्यप्रदेश में पिछले नौ महीने में 3400 से ज्यादा रेप के मामले दर्ज हो चुके है, यानि हर महीने 377 लड़कियों या महिलाओं के साथ प्रदेश में बलात्कार होता है, ये तो वो मामले है जो थाने तक पहुंचने के बाद मामला दर्ज होता है, कई तो ऐसे ही मामले होते है या तो पीड़िता समाज और दूसरी चीजों के डर से थाने ही नहीं आती, या फिर कई बार मामला ही दर्ज नहीं किया जाता।
                       
सोचिए, ये ऑकड़े देखने के बाद अंदाजा लगाइए, मध्यप्रदेश में महिलाएं और लड़कियां कितनी सुरक्षित है।

मध्यप्रदेश के क्राइम ब्यूरो रिकॉड्स के अनुसार इस दौरान करीब 1600 हत्या के भी मामले दर्ज किए गए है। विदित हो कि मध्य-प्रदेश पिछले दो साल से गलत कारणों की वजह से चर्चा में ज्यादा रही है। अगर एनसीआरबी की रिपोर्ट को मानें तो साल 2013 में सबसे ज्यादा बलात्कार 4335 मामले दर्ज किए गए है।

जबकि साल 2012 में भी 3445 बलात्कार की घटनाएं पुलिसिया फाइलों तक पहुंची। ये ऑकड़े बेहद चौकाने वाले है, साल 2001 और 2013 की बात करें तो ऑकड़े सीधे दोगुनी से भी ज्यादा हो चुकी है।

विदित हो कि साल 2001 में बलात्कार के 2851 मामले सामने आए जबकि 2013 में 4335 मामले दर्ज किए गए। इसके अलावा पूरे प्रदेश में औसतन रोज 6 लूट की घटनाएं होती है, यानि करीब 1500 लूट की घटनाएं सामने आई, इसके साथ ही 15000 चोरी की वारदात भी दर्ज की गई।

ये वो मामले है जो लोग अपने घर से निकल कर थाने तक पहुंचे और मामला दर्ज कराया, इसके अलावा कई बार तो या तो जिसके साथ घटना होती है, वो शिकायत ही नहीं करता या फिर पुलिस मामला ही दर्ज नहीं करती ।

आज देश भऱ में अपराध को लेकर हायतौबा मचा है, बिहार के सीवान में पत्रकार की हत्या के बाद बहस तेज हो गई है। सीएम नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव आरोप लगा है कि बिहार को बदनाम करने की कोशिश हो रही है, दूसरे प्रदेशों में भी अपराध हो रहा है, लेकिन बिहार की घटनाओं को बढ़ा-चढ़ा कर प्रचारित-प्रसारित किया जा रहा है। ऐसे में सभी राज्यों के अपराध एक-एक कर डाटा के साथ पेश किया जा रहा है।

NewBuzzIndia से फेसबुक पे जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें..
**Like us on facebook**
[wpdevart_like_box profile_id=”858179374289334″ connections=”show” width=”300″ height=”150″ header=”small” cover_photo=”show” locale=”en_US”]

1 COMMENT

  1. जब तक भारत में गुप्त हेल्पलाइन न● नहीं होगा ?
    तबतक हर अपराध का पर्दाफास नहीं होगा ?
    नेता
    Police
    गुंडों
    दलालो की मनमानी चलती रहेगी

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.