आजककल की लाइफस्टाइल में मोबाइल उन महती आवश्यकत्ताओं में से एक हो गया है जिसके बिना शायद वे अपने जीवन की कल्पना ना कर सके। दिन के हर वक्त वे अपने साथ इसे लिए रहते है। अक्सर इसे लोग अपने पेंट की जेब में रखते है। लेकिन शायद ही आपको इस बात की खबर हो कि जेब में रखा ये फोन आपके लिए कितना घातक हो सकता है।

जी हां एक रिसर्च के मुताबिक जो पुरुष अपना मोबाइल पेंट की जेब में रखना पसंद करते है उनके लिए यही मोबाइल स्पर्म नष्ट होने का कारण बना हुआ है। रिसर्च में ये बात सामने आई है कि, आम आबादी में स्पर्म में गिरावट की समस्या से जूझने वाले लोगो में जेब में मोबाइल रखने वाले 47 पर्सेंट इस समस्या से ग्रसित हैं।

हाइफा में टेक्निकल यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर मार्टिन डिर्नफेल्ड के मुताबिक, रिसर्च में पाया गया है कि फोन और उसकी इलेक्ट्रोमैग्नेटिक ऐक्टिविटी के कारण मोबाइल की लत वाले पुरुषों में ऐक्टिव स्विमिंग स्पर्म और उसकी गुणवत्ता दोनों में ही भारी गिरावट आई है। इस स्टडी टीम ने बताया है कि 100 से ज्यादा पुरुष एक साल में फर्टिलिटी क्लिनिक पहुंच रहे हैं।

आपको बता दें कि यह रिपोर्ट जनरल रिप्रोडक्टिव बायोमेडिसिन में पब्लिश हुई है। इसमें लंबे समय की उस आशंका पर गहन अध्ययन किया गया है कि पुरुषों में फर्टिलिटी पर सेलुलर फोन का क्या प्रभाव पड़ता है।

अधिकत्तर लोग मोबाइल फोन अपनी थाई के पास रखते हैं। जिससे स्पर्म की क्वॉलिटी में भी भारी गिरावट आ रही है। पश्चिम के ज्यादातर सभी देशों में स्पर्म की क्वॉलिटी प्रभावित हुई है। जिसका सीधा कारण मोबाइल की लत को बताया जा रहा है। 40 पर्सेंट कपल्स को गर्भ धारण करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

सेंट जॉर्ज हॉस्पिटल लंदन के प्रफेसर गेडिस ग्रॉजिंसकस ने बताया कि, पुरुषों को मोबाइल की लत से बाहर निकलने की जरूरत है। वह मोबाइल के चक्कर में अपनी अहम चीज को खो सकते हैं।