Newbuzzindia : राहुल गांधी और अरविन्द केजरीवाल ने कुछ दिनों पहले सहारा-बिड़ला घोटाला खोलते हुए नरेंद्र मोदी पर हमला बोला था । सहारा-बिड़ला घोटाले में नरेंद्र मोदी पर 65 करोड़ रुपये की रिश्वत लेने के आरोप है ।

इसी बीच अब कांग्रेस ने नरेंद्र मोदी का एक और घोटाला खोला है । कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने जीएसपीसी में 20,000 करोड़ का घोटाला किया है । कुछ समय पहले कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा था कि –

मोदी ने 2005 में जोर-शोर से घोषणा की थी कि जीएसपीसी ने केजी बेसिन ने भारत के सबसे बड़े गैस भंडार का पता चला है लेकिन 20 हजार करोड़ रुपए के निवेश और 11 साल बर्बाद करने के बाद वहां से कोई गैस नहीं निकली। रमेश ने कहा कि जीएसपीसी घोटाला टूजी स्पेक्ट्रम और कोयला घोटाले से भी बड़ा है।
घोटाला छिपाने के लिए 30000 करोड़ बर्बाद कर रही मोदी सरकार !

यह मामला एक बार फिर चर्चा में इसलिए आ गया है क्योंकि मोदी सरकार अब गुजरात स्टेट पेट्रोलियम कार्पोरेशन (जीएसपीसी) के तीस हजार करोड़ के कर्ज को ओएनजीसी पर थोपने का प्रयास कर रही है । यदि यह अधिग्रहण किया गया तो ओएनजीसी सीधे तौर पर तीस हजार करोड़ के घाटे में पहुंच जाएगा